राष्ट्रीय (25/05/2019) 
उच्चतर शिक्षा विभाग के नए आदेशानुसार स्नातक प्रथम वर्ष की दाखिला प्रक्रिया 8 जून से ऑनलाईन शुरू की जाएगी
भिवानी, 25 मई। उच्चतर शिक्षा विभाग के नए आदेशानुसार स्नातक प्रथम वर्ष की दाखिला प्रक्रिया 8 जून से ऑनलाईन शुरू की जाएगी। ये जानकारी देते हुए आदर्श महिला महाविद्यालय की प्रबंधक समिति के महासचिव अशोक बुवानीवाला ने बताया कि छात्राओं की सुविधा को देखते हुए महाविद्यालय प्रांगण में विशेष रूप से हैल्पडेस्क व काऊंटर बनाए गए है ताकि छात्राओं को फार्म भरवाने के लिए सायबर कैफें या अन्य सैंटरों पर समय व धन की बर्बादी न करनी पड़ें। महासचिव ने बताया कि उच्चतर शिक्षा विभाग द्वारा दाखिला के लिए एक ऑनलाईन पोर्टल बनाया है जिस पर सभी कॉलेजों की सीट और कोर्सों की जानकारी अपडेट की गई है और आवेदन के लिए छात्राएं 8 जून से 28 जून तक इस पोर्टल पर जाकर आदर्श महाविद्यालय में दाखिले के लिए अपने मनपसंद विषयों के लिए आवेदन कर सकती हैं। बुवानीवाला ने बताया कि उच्चतर शिक्षा विभाग ने पहली बार हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड से जमा-2 कक्षा का परिणाम अपनी वेबसाईट पर अपलोड किया है। इससे छात्रों को कॉलेजों में दाखिले के लिए ऑनलाईन आवेदन करते समय केवल जमा-2 का कक्षा का रोल नम्बर दर्ज करना होगा, अंकतालिका अपने आप अपलोड़ हो जाएगी। इस प्रक्रिया के तहत हरियाणा बोर्ड व सीबीएसई बोर्ड के छात्रों को अपनी अंकतालिका सत्यापित करवाने की भी आवश्यकता नहीं पडेगी। 28 जून के बाद जैसे ही महाविद्यालय अपनी आईडी से पोर्टल पर लॉग इन करेंगे और संबंधित कोर्स पर क्लिक करेंगे उसकी मेरिट लिस्ट स्वत: ही अंकित हो जाएगी। दाखिलों के लिए मेरिट सूची भी विभाग की तरफ से ऑनलाईन ही जारी की जाएगी। अशोक बुवानीवाला ने बताया कि हरियाणा बोर्ड व सीबीएसई बोर्ड को छोडक़र दूसरों राज्यों के छात्रों की अंक तालिका की जांच कॉलेज स्तर की जाएगी। इस प्रक्रिया के बाद छात्राऐं महाविद्यालय में आकर या ऑनलाईन लिस्ट देख सकती है। उन्होंने बताया कि छात्राओं को फीस जमा करवा कर दाखिला लेने के लिए एक सप्ताह का समय मिलेगा और फीस भी ऑनलाईन या महाविद्यालय परिसर में आकर भरी जा सकती है। प्रबंधक समिति के महासचिव ने बताया कि छात्राएं महाविद्यालय में कोर्स से संबंधित जानकारी के लिए विभिन्न विषयों के प्राध्यापकों से सलाह ले सकती है। सभी विषयों एवं संकायों की सीटे ऑनलाईन प्रक्रिया के माध्यम से ही भरी जाएंगी। छात्राओं के लिए प्रोस्प्रैक्टस की कोई फीस नहीं रखी गई है। उन्होंने बताया कि सुप्रीम कोर्ट के आदेशानुसार छात्राओं को दाखिले के समय आधार कार्ड जरूरी नहीं है लेकिन रिजर्व कैटेगरी की छात्राओं के लिए छात्रवृति हेतू आधार कार्ड व बैंक अकाऊंट नम्बर आवश्यक है। उन्होंने कहा कि आदर्श महिला महाविद्यालय महिला शिक्षा के अपने उद्देश्य के लिए निरंतर आगे बढ़ रहा है। महाविद्यालय परिसर में छात्राओं को उनके उज्जवल भविष्य के लिए हर प्रकार की सुविधाएं दी जा रही है। प्रदेश में महाविद्यालय ने शिक्षा के साथ-साथ सांस्कृतिक, खेल एवं कला के क्षेत्र में भी अव्वल स्थान प्राप्त किया है। आज प्रदेश में महाविद्यालय की श्रृखलां में आदर्श महिला महाविद्यालय सर्वोच्च स्थान पर है। 
Copyright @ 2019.