राष्ट्रीय (28/07/2019) 
मनोज तिवारी ने कांवड़ सेवा शिविरों में पहुंचकर किया शिव भक्त कांवडियों का अभिनंदन, लिया आशीर्वाद

नई दिल्ली, 28 जुलाई।  भारतीय जनता पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष एवं उत्तर पूर्वी दिल्ली के सांसद  मनोज तिवारी ने आज अपने संसदीय क्षेत्र में आयोजित कावड़ सेवा शिविरों नानकसर, करावल नगर, यमुना विहार, वजीराबाद रोड, गोकलपुर, मौजपुर, जीटी रोड, शाहदरा, शास्त्री पार्क, सीलमपुर का दौरा किया। शिविरों में विश्राम कर रहे कांवडियों का अभिनंदन कर उनका आशीर्वाद लिया। कहीं कांवड़ियों की सेवा की तो कहीं भजन और धार्मिक वचनों से उपस्थित कांवड़ियों से अपने विचार साझा किए।

   
 मनोज तिवारी ने कहा कि पहला कांवड़िया रावण था। वहीं, मान्यता है कि भगवान राम ने भी भगवान शिव को कांवड़ चढ़ाई थी। रामायण में इस बात का उल्लेख मिलता है कि भगवान राम ने कांवड़िया बनकर सुल्तानगंज से जल लिया और देवघर स्थित बैद्यनाथ ज्योतिर्लिंग का अभिषेक किया था। मेरा सौभाग्य कि मैंने सात वर्ष लगातार सुल्तान गंज से कांवड उठाकर देवघर में जलाभिषेक किया। कहा जाता है कि जो भी शिवभक्त सच्चे मन से सावन में कांधे पर कांवड़ रखकर बोल बम का नारा लगाते हुए पैदल यात्रा करता है, उसे हर कदम के साथ एक अश्वमेघ यज्ञ करने जितना फल प्राप्त होता है। उसके सभी पापों का अंत हो जाता है। उसको जीवन में कभी किसी चीज की कमी नहीं रहती है। मृत्यु के बाद उसे शिवलोक की प्राप्ति होती है। जहाँ भगवान शंकर को भोला और बारदाने कहा गया है वहीं वेदों और पुराणों में मान्यता है कि उनके तीसरे नेत्र के खुलने से बड़ी-बड़ी आसुरी शक्तियां भस्म हो जाती हैं।

   
 मनोज तिवारी ने कहा कि मान्यताओं के अनुसार भोलेनाथ को त्रिलोचन नाम से भी जाना जाता है। इसका अर्थ होता है तीन आंखों वाले। शास्त्रों के अनुसार महादेव के दो नेत्रों में से एक में चंद्रमा और दूसरी में सूर्य हैं जबकि उनकी तीसरी आंख को विवेक कहा गया है। उन्होंने कहा कि कुछ शास्त्रों के मुताबिक तीसरी आंख हर मनुष्य को प्राप्त होती है जो अतः प्रेरणा के समान व्यक्ति के भोतर होती है। परंतु इसे जागृत करने के लिए कठोर साधना और ज्ञान की आवश्यकता होती है। वास्तव में देखा जाए तो यह तीसरा नेत्र काम, वासना, क्रोध, लोभ, मोह और अहंकार को नियंत्रित रखती है और आत्मा को जन्म-मरण से मुक्ति दिलाती है। ज्योतिष विद्वानों का मानना है कि अगर सांसारिक दृष्टि से देखा जाए तो तीसरी आंख जीवन में किए जाने वाले सही और गलत काम की और आने वाली परेशानियां व कठिनाइयों की जानकारी भी देती है। और सामान्य मनुष्य के जीवन में हमें यह शक्ति बुराइयों के खिलाफ लड़ने और सत्य की रक्षा के लिए प्रेरित करती है।

   
इस अवसर पर  मनोज तिवारी के साथ जिलाध्यक्ष  अजय महावर,  कैलाश जैन, भाजपा नेता  मनोज त्यागी,  भरत माहौर,  राजेंद्र अग्रवाल, डॉ. यू.के. चैधरी,  उदय कौशिक, चैधरी अरविंद नागर, मीडिया विभाग के प्रदेश सह प्रमुख  आनंद त्रिवेदी सहित पार्टी के कई पदाधिकारी, निगम पार्षद एवं कार्यकर्ता मौजूद रहे।

 

 

Copyright @ 2019.