विशेष (07/04/2021) 
पूर्वांचल के प्रवासी मजदूरों की मदद करने पर पूर्वाचंली नेताओं ने कांग्रेस का दामन थामा।
नई दिल्ली, 7 अप्रैल, 2021 - दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौ0 अनिल कुमार ने आज आम आदमी पार्टी, एन.सी.पी. और जेडीयू के पूर्वाचंली नेताओं का कांग्रेस पार्टी में स्वागत करते हुए कहा कि दिल्ली में विभिन्न विपक्षी पार्टियों के पूर्वाचंली लोग कांग्रेस की विचाराधारा से जुड़ रहे है, मैं कांग्रेस पार्टी में इनका अभिनन्दन करता हूॅ। अपनी जीविका और भविष्य के लिए विभिन्न प्रदेशों से आकर रह रहे हैं। उन्होंने कहा कि केन्द्र और दिल्ली सरकार की असंवेनशीलता और कोविड महामारी लॉकडाउन में गलत निर्णय के कारण पूर्वाचंल भाईयों के लाखों परिवारां को रोजी रोटी से लाचार होकर सैंकड़ो किलोमीटर पैदल चलकर अपने गृह राज्यों को लौटना पड़ा था, इससे दर्दनाक और कुछ नही हो सकता। कांग्रेस पार्टी ने ‘‘आओ मदद का हाथ बढ़ाए’’ कार्यक्रम के तहत दिल्ली में रह रहे लाखों पूर्वाचंलियों सहित सभी श्रमिक मजदूर और जरुरतमंदों को न केवल भोजन व राशन उपलब्ध कराया बल्कि जो लोग अपने गांव जाने को बेबस थे, कांग्रेस पार्टी ने सभी मजदूर भाईयों को परिवार सहित उनके गांव पहुचाने की व्यवस्था भी की।

चौ0 अनिल कुमार ने छतरपुर विधानसभा का 2020 में चुनाव लड़े एनसीपी के श्री राणा सुजीत सिंह, बदरपुर विधानसभा से जनता दल यूनाईटेड के प्रदेश महासचिव श्री अनिल कुमार, श्री भानु प्रताप सिंह, जेडीयू महरौली जिला अध्यक्ष श्री दीपक चौधरी और आम आदमी पार्टी के नई दिल्ली लोकसभा अध्यक्ष एवं किराएदार विंग के प्रभारी श्री अश्वनी कुमार अग्रवाल व एडवोकेट श्री सुरज सैनी को कांग्रेस का पटका पहनाकर कांग्रेस पार्टी में शामिल किया। कार्यक्रम का संचालन एडवोकेट सुनील कुमार ने किया तथा कार्यक्रम में प्रदेश उपाध्यक्ष अली मेंहदी, जिला अध्यक्ष राजेश चौहान और बदरपुर के कांग्रेस प्रत्याशी प्रमोद यादव भी मौजूद थे।

पूर्वाचंलियों का प्रतिनिधित्व करते हुए राणा सुजीत सिंह ने कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने सत्ता में आने से पहले पूर्वाचंलियों, गरीबों, दलितों के विकास व उनकी बेहतरी के लिए काम करने के वायदे किए थे परंतु उन्होंने खोखले वायदे करके सभी को गुमराह किया जिसके कारण आज पूर्वाचंल के लोग अपने विकास की उम्मीद से कांग्रेस पार्टी में शामिल हुए है, क्योंकि वर्तमान में सत्ता में न होते हुए भी अकेले कांग्रेस पार्टी ने लॉकडाउन के समय इनकी मदद करी तथा दिल्ली में कांग्रेस की सरकार ने शीला जी के नेतृत्व में अपने 15 वर्षों के शासन में पूर्वांचलियों सहित सभी वर्गों के विकास के लिए काम किया था और दिल्ली का चहुमुखी विकास किया था। उन्होंने कहा कि आज लोगों में कांग्रेस के प्रति विश्वास इसलिए है कि कांग्रेस ने दिल्ली में गरीबों, मजदूरों, मध्यम वर्ग, दुकानदार, असंगठित क्षेत्र, रेहड़ी पटरी, पूर्वाचंलियों के सर्वांगीण विकास के लिए काम किया है। कांग्रेस की शीला सरकार के दिल्ली के लोगां के जीवन स्तर को बेहतर बनाने के लिए काम किया है।

चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि दिल्ली की जनता ने अरविन्द केजरीवाल तीन बार दिल्ली का मुख्यमंत्री बनाया परंतु उन्हें जुमलेबाज मुख्यमंत्री के दिल्लीवालां को धोखे के अलावा कुछ नही मिला। उन्होंने हर क्षेत्र के लिए बड़े-बड़े वायदे किए परंतु आज मुफ्त सुविधाऐं देने की खोखली बुनियाद के अलावा दिल्लीवाले दिन प्रतिदिन पिछड़ते जा रहे है, अरविन्द केजरीवाल ने सब कुछ भगवान भरोसे छोड़ दिया है। उन्हांने कहा कि किसान बिलों पर यू-टर्न करने वाले अरविन्द केजरीवाल की कथनी और करनी में भारी अंतर है। चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि रात के कर्फ्यू के कारण दिहाड़ी मजदूरी करने गरीब लोग सबसे ज्यादा प्रभावित होंगे। उन्होंने कहा कि दिल्ली के नागरिक और शासन के अधिकारों की कटौती के बाद अब यह सिद्ध हो गया है कि केजरीवाल को शासन चलाना नही आता, उन्हें केवल प्रलोभन देकर सत्ता हांसिल करना आता है।

चौ0 अनिल कुमार ने दिल्ली में लगातार बढ़ रहे कोविड मामलों पर चिंता व्यक्त की और अरविन्द केजरीवाल पर आरोप लगाया कि वह हर काम निजी स्वार्थ की मंशा से करते है जबकि आज कोविड महामारी के संकट भरे समय दिल्ली के लोगों बचाने की प्राथमिकता है। उन्हांने कहा कि आप पार्टी के मौहल्ला क्लीनिक केवल केजरीवाल की फोटो के प्रचार का माध्यम बन कर रहे गए है, वहां कोई कारगर इलाज नही होता।

चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि भाजपा की निरंकुश मोदी सरकार के मनमर्जी वाले फैंसलों के खिलाफ श्री राहुल गांधी जी के द्वारा सीधे सवाल उठाने की हिम्मत करने पर यह सिद्ध हो गया है कि केवल कांग्रेस पार्टी ही विपक्ष की भूमिका निभाने का काम रही है। उन्होंने कहा कि भाजपा के खिलाफ राफेल में कमीशन, नोटबंदी, चौपर डील और दिल्ली के अधिकारों को खत्म करके लोकतंत्र को खत्म करने कोशिश के लिए किए गए निर्णयों के खिलाफ केवल कांग्रेस पार्टी ने ही मोदी सरकार के तानाशाही निर्णयों के खिलाफ पुरजोर आवाज उठाई। उन्होंने कहा कि भाजपा के 6 वर्षों के शासन में देश को बेचने और भ्रष्टाचार के सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए है।

चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि दिल्ली सहित पूरे देश में सभी धर्म और जाति के लोगों में कही न कहीं एक डर समाया है, वे बदहाल है, कोई खुश नही है। उन्होंने कहा कि यदि कोई खुश है तो वह भाजपा का परिवार है, आरएसएस का परिवार है। देश में गरीब का परिवार, किसान का परिवार, मजदूर का परिवार, युवाओं का परिवार, पूर्वाचंलियों का परिवार, कर्मचारियों का परिवार आज कांग्रेस की ओर उम्मीद भरी निगाहों से देख रहा है।

चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने समाज के सभी वर्गों के अधिकारो, उनके विकास, उनकी जरुरतों के लिए हमेशा लड़़ाई लड़ी है, इसी विश्वास के साथ आज विभिन्न पार्टियों के बदरपुर, छतरपुर, नई दिल्ली के नेताओं और सैंकड़ों कार्यकर्ता आज कांग्रेस पार्टी में शामिल हुए है। मैं इनका आभार प्रकट करता हॅू और विश्वास दिलाता हू कि आपके अधिकारों की लड़ाई को कांग्रेस पार्टी अपना कर्तव्य मान कर लड़ेगी और सभी को कांग्रेस पार्टी में सम्मान दिया जाएगा।
Copyright @ 2019.