11/11/2007  विदेश में नौकरी के नाम पर ठगी...
विदेश में नौकरी पाने के झांसे में गुजरात से आए पांच लोग सोलन के एक होटल में लाखों रुपये की ठगी का शिकार हुए, जिन्हें पेयजल में नशीला पदार्थ पिलाकर बेहोश किया गया और उनके पास रखी नकदी लूटने के अलावा एटीएम कार्ड से भी पैसे निकलवा ले गया शातिर। 
एटीएम कार्ड के जरिए करीब पांच लाख रुपये निकाल लिए गए जबकि जेबों में रखे गए पैसे भी शातिर ने निकाल लिए। इन लोगों के साथ हुई ठगी के बारे में पहले पुलिस को गुजरात से आए एक व्यक्ति के रिशतेदार से सूचना मिली  िक वह पिछले दो दिनों से फोन नहीं उठा रहा है। इस पर थाना प्रभारी अनिल धोल्टा ने फोन पर बताए गए होटल पैरागॉन में ठहरे लोगों के कमरों में देखा तो पाया कि सभी बेहोशी की हालत में थे जिन्हें अस्पताल ले जाया गया। इनके होश में आने के बाद सभी लोगों को मालूम हुआ कि वह गुजरात से यहां एक ही मकसद से आए थे और सभी ठगी का भी एक साथ शिकार हुए हैं।  
गुजरात में एक समाचार पत्र में विदेश में नौकरी के लिए विज्ञापन के जरिए चार लोगों ने गलेन नामक व्यक्ति से संपर्क किया था और अपने कागजात ईमेल के द्वारा गलेन को भेजे गए। इसके बाद इन चारों को गलेन ने शिमला में आकर अपना वीजा लगवाने के लिए बुलाया था। जिसमें एक महिला और उसका पति गुजरात से रवाना हुए वहीं एक युवक अपने पिता के साथ जबकि एक अन्य युवक अकेला शिमला के लिए 19 तारीख को शिमला के निकला। इन सभी लोगों को क्या मालूम था कि इनके साथ बहुत बड़ा सड़यंत्र रचा जा रहा है। सभी लोगों का कहना है कि वह जैसे ही चंडिगढ़ पहुंचे तो उन्हें फोन पर गलेन ने सूचित किया कि वह लोग सोलन में ही उतर जाएं। 
ठगी का शिकार हुई महिला अनीता ने कहा कि वह अपने पति राजेश के साथ सोलन में उतर गई और गलेन उन्हें अपनी गाड़ी में लेने आया और होटल पैरागॉन में पहले से बुक करवाए कमरों में ठहरा दिया। गलेन ने चाय खुद बनाई और इन्हें परोसी। इस बीच अनिता बाथरूम में थी और राजेश को गलेन ने कागजात निकालने में लगा दिया। चाय पीने के बाद इन लोगों को कुछ याद नहीं कि क्या हुआ था।
इसी प्रकार सिद्धांत ने कहा कि उसने चाय पीने से इंकार कर दिया और वह अपने लिया माजा लेकर आया लेकिन कब और कैसे गलेन ने उसमें नशीला पदार्थ मिलाकर बेहोश कर दिया इसका उसे कोई पता नहीं।
पुलिस थाना प्रभारी अनिल धोलटा ने बताया कि उन्हें गुजरात से आए फोन से सूचना मिली थी जिस पर कार्यवाही करते हुए सारे षड़यंत्र का खुल्लासा हुआ। उन्होंने कहा कि पुलिस हर प्रकार से शातिर अपराधी को तलाशने में जुटी है और जल्द उसे गिरफ्तार कर लिया जाएगा।.......
पुलिस ने अपनी पड़ताल में पाया कि गुजरात से आए प्रितिश सोनी के एटीएम कार्ड से दो लाख रुपये निकाले गए हैं और उसके पर्स में रखे 75 सौ रुपये भी निकाल लिए गए। उसके पिता की जेब से भी 15 सौ रुपये निकाले गए हैं। महिला अनिता के पर्स से 6 सौ रुपये उसके पति की जेब से 3 हजार रुपये और निकाले गए जबकि उनके एटीएम से एक लाख तीस हजार रुपये भी निकाल लिए गए। सिद्धांत के एटीएम से भी एक लाख रुपये निकाले गए हैं। जबकि सोलन के माल रोड़ पर स्थित एक दुकान से एटीएम कार्ड के जरिए कुकर भी खरीदा गया है। इस घटना से जहां शहर में भी सनसनी फैली हुई है 

Copyright @ 2017.