09/10/2014  रायपुर की 11.50 लाख जनता कचरे के ढेर पर- कांग्रेस
रायपुर/09 अक्टूबर 2014। छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता एवं एम.आई.सी. सदस्य प्रमोद दुबे ने छत्तीसगढ़ सरकार पर आरोप लगाते हुये कहा है कि जिस प्रकार समूचे बस्तर में नक्सलियों द्वारा सरकार चलाई जा रही है उसी प्रकार रायपुर में केवार कंपनी सरकार को अपने कब्जे में कर रायपुर की 11.50 लाख जनता को कचरे के ढेर पर रहने के लिये मजबूर कर रखी है। विगत 18 माह से केवार कंपनी को रायपुर में छत्तीसगढ़ नगरीय प्रषासन द्वारा सफाई का ठेका दिया गया है लेकिन आज तक इस विषय पर राजधानी के दोनो मंत्री से लेकर मुख्यमंत्री तक की बाते केवार कंपनी के सामने बौने साबित हुये है। मुख्यमंत्री जी एवं मुख्य सचिव के घर तक सफाई सीमित कर दी गई है तथा जनता पीलिया, डेंगू जैसी गंभीर बिमारियों से त्रस्त हो चुकी है। 
प्रमोद दुबे ने कहा कि जनता के खून पसीने के 20 करोड़ की राषि अभी तक केवार को च्ंलउमदज हो चुकी है लेकिन सफाई के नाम में आयुक्त की घिघ्घी बंद है। आयुक्त की बातों की न कोई गंभीरता केवार के प्रति दिखाई पड़ती न केवार कंपनी के लोग आयुक्त को गंभीरता से ले रहे है।
रोम जब जल रहा था तब नीरो चैन की बंषी बजा रहा था वही कहावत चरितार्थ है। एक तरफ प्रधानमंत्री जी जगह-जगह सफाई की बात कर रहे है वहीं उनके स्वयं के मुख्यमंत्री राजधानी जो नर्क बना चुके है, जरा भी गैरत हो तो रायपुर की जनता के लिए न सही नरेन्द्र मोदी के नाम पर सफाई करवाने की जहमत उठायें।
Copyright @ 2017.